Sunday, June 13, 2021

एंटीफा क्या है?

 

एंटीफा शब्द अंग्रेजी के एंटी-फासिस्ट का संक्षिप्त रूप है। पिछले साल अमेरिका में अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ़्लॉयड की पुलिस कार्रवाई में हुई मौत के बाद राजधानी वॉशिंगटन समेत कई शहरों में भड़की हिंसा के पीछे इसका हाथ बताया गया था। तत्कालीन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने हिंसा में शामिल होने के आरोप में एंटीफा पर प्रतिबंध लगाने का ऐलान किया था। यह शब्द उग्रवादी, वामपंथी और फासीवादी विरोधी आंदोलन के लिए इस्तेमाल किया जाता है। ये लोग नव-नाजी, नव-फासीवाद, ह्वाइट सुपीरियॉरिटी और रंगभेद के खिलाफ हैं।

एंटीफा के गठन को लेकर कोई आधिकारिक जानकारी नहीं है। इससे जुड़े सदस्य दावा करते हैं कि इसका गठन 1920 और 1930 के दशक में यूरोपीय फासीवादियों का सामना करने के लिए किया गया था। हालांकि एंटीफा की गतिविधियों पर नजर रखने वाले जानकार बताते हैं कि एंटीफा आंदोलन 1980 के दशक में एंटी-रेसिस्ट एक्शन नामक एक समूह के साथ शुरू हुआ था। इक्कीसवीं सदी के पहले दशक तक यह आंदोलन सुस्त था लेकिन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सत्ता संभालने के बाद इसने रफ्तार पकड़ी थी। हाल में जॉर्ज फ़्लॉयड की पिछले साल हुई मौत के मामले में अमेरिका की एक अदालत द्वारा पूर्व पुलिस अधिकारी डेरेक शॉविन को हत्या का दोषी माने जाने के बाद इस समूह के सदस्यों ने खुशी मनाई थी।

पिनकोड किस आधार पर बने हैं?

पिनकोड यानी पोस्टल इंडेक्स नम्बर भारतीय डाक-व्यवस्था के वितरण के लिए बनाया गया नम्बर है। छह संख्याओं के इस कोड में सबसे पहला नम्बर क्षेत्रीय नम्बर है। पूरे देश को आठ क्षेत्रीय और नवें फंक्शनल जोन में बाँटा गया है। इसमें दूसरा नम्बर उप-क्षेत्र का नम्बर है। तीसरा नम्बर सॉर्टिंग डिस्ट्रिक्ट का है। अंतिम तीन संख्याएं सम्बद्ध डाकघरों से जुड़ी हैं। दिल्ली को शुरूआती नम्बर मिला है 11। 12 और 13 नम्बर हरियाणा को मिले हैं, 14, 15 नम्बर पंजाब को इसी तरह 20 से 28 नम्बर उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड को मिले हैं। राजस्थान को 30-34, कर्नाटक को 56-59 वगैरह-वगैरह। उदाहरण के लिए दिल्ली के आठ जिलों के पिनकोड भौगोलिक स्थित के अनुसार बाँटे गए हैं। नई दिल्ली के कनॉट प्लेट, बंगाली मार्केट के आसपास के इलाकों के नम्बर 110001 से शुरू होते हैं, मिंटो रोड, अजमेरी गेट और दरियागंज वगैरह का नम्बर है 110002, इसके बाद लोदी रोड, सफदरजंग एयरपोर्ट और पंडारा रोड वगैरह का नम्बर है 110003। अंत में यमुना पार इलाके में मयूर विहार के फेज़ 1 में 110091 से होता हुआ गाज़ीपुर, मयूर विहार फेज़ 3 और वसुन्धरा एनक्लेव में यह 110096 हो जाता है।

No comments:

Post a Comment

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...