Tuesday, December 6, 2011

चीटियाँ क्या सोती नहीं?

ऐसा सुना जाता है कि चींटियाँ सोती नहीं। क्यों नहीं सोतीं? क्या वे सारी रात जागती हैं? अगर जागती हैं तो सोती कब हैं? 

ऐसा माना जाता था कि चीटियाँ सोती नहीं। पर वैज्ञानिक रिसर्च से पता लगा है कि उनके सोने का ढंग अलग। जुलाई 2009 में The Journal of Insect Behaviour में Deby L. Cassill, Skye Brown, Devon Swick and George Yanev published an article entitled 'Polyphasic Wake/Sleep Episodes in the Fire Ant, Solenopsis Invicta'. इसके अनुसार कम से कम चीटियों की एक प्रजाति फायर एंट जरीर सोती है। इनमें श्रमिक चीटियाँ 24 घंटे में करीब साढ़े चार घंटे और रानी चीटियाँ करीब साढ़े नौ घंटे सोती हैं। आमतौर पर चीटियाँ काम करते-करते क से डेढ़ मिनट की झपकी लेती हैं। इस तरह वे चौबीस घंटे में दो सवा दो सौ बार सोती हैं। आप उन्हें गौर से देखें तो वे एक जगह थोड़ी देर के लिए ठहर जाती हैं। यही उनकी झपकी या नैप है। 




आसमान क्या है? कितना बड़ा है? यह ठोस है, तरल है या गैस है?-समीर, द्वारका, दिल्ली

आप जिसे आसमान कह रहे हैं वह बाहरी अंतरिक्ष का एक हिस्सा है। धरती से दिन में यह नीले रंग का नजर आता है। इसकी वजह है हमारा वातावरण जिससे टकराकर सूरज की किरणों का नीला रंग फैल जाता है। पर यह आसमान धरती से देखने पर ही नीला लगता है। किसी अन्य ग्रह से देखने पर ऐसा ही नहीं दीखेगा, बल्कि आमतौर पर काला दीखेगा। यह ठोस नहीं है, पर इसमें ठोस, तरल और गैसीय पदार्थ प्रचुर मात्रा में मौजूद हैं। यह अनंत है। दुनिया के बड़े से बड़े टेलिस्कोप से भी आप इसका बहुत छोटा हिस्सा देख पाएंगे।

 चूहे की उम्र कितनी होती है?

चूहों की तमाम किस्में होती हैं। काले चूहे, भूरे चूहे, सफेद चूहे। जंगली चूहे। छछूंदर और नेवले भी चूहों की प्रजाति हैं। बहरहाल इंसान के साथ रहने वाले घरेलू चूहों की उम्र आमतौर पर साल भर करीब होती है।

तितली कितनी ऊँचाई तक उड़ सकती है?                                                                                                                                                                        कुछ ग्लायडर पायलटों ने गयारह हजार फुट की ऊँचाई तक तितलियों को देखा है। तितलियों की मोनार्क  प्रजाति सैकड़ों कलोमीटर तक की यात्रा करके एक जगह से दूसरी जगह तक जाती हैं। 

कछुए के दांत होते हैं या नहीं? नहीं तो क्यों नहीं होते? 
कछुए के दांत तो नहीं होते, पर मुँह में तीखे सींग जैसे होते हैं, जिनसे वे भोजन काटते चबाते हैं।

गुलाब जामुन में कौन सा विटामिन होता है? ए बी या सी?-मनोहर लाल गांधी, गाज़ियाबाद 


आपका आशय मिठाई वाली गुलाब जामुन से नहीं है। बहरहाल जामुन भारतीय भूखंड का फल है जो बाद में सारी दुनिया में गया। मूलतः यह विटामिन ए और सी का महत्वपूर्ण स्रोत है। इसमें विटामिन बी1, बी2,बी3,बी5 और बी6 भी होते हैं। इनके अलावा इसमें कैलिशियम, आयरन, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस,पोटेशियम और सोडियम भी होते हैं। आयुर्वेद, यूनानी और चीनी चिकित्सा पद्धतियों में डायबिटीज़ और पेट के रोगों के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है।


twitpic में एक तस्वीर देखी न्यू ओरलेंस में कब्रें ज़मीन से ऊपर बनी होती हैं क्योंकि कहते हैं वहां ऊंचाई समुद्र तल से नीचे है| ऐसा क्यों है? और ऐसे कौन-कौन से स्थान हैं पृथ्वी पर जो समुद्र तल से नीचे हैं? वहां बारिश का पानी आ जाए तो वो कहीं बह भी सकता है या सिर्फ evaporate हो पायेगा?-प्रवीण कवि ने फेसबुक में पूछा है।
आप समुद्र के आसपास के इलाके को ध्यान में रखकर यह बात कह रहे हैं। दुनिया में तमाम जगहें समुद्र की सतह से नीचे हैं। इस्रायल और जॉर्डन की सीमा पर डैड सी सागर तल से 418 मीटर नीचे है।

आप जमीन पर पानी बढ़ने की ही बात क्यों सोचते हैं। लगातार बर्फ पिघलने से सागर की सतह भी बढ़ रही है। इससे तमाम द्वीप डूब रहे हैं। हमारा पड़ोसी देश मालदीव भी डूबने के खतरे में है।

हार्ड वॉटर को सॉफ्ट में कैसे बदलते हैं? नवीन खोला, सादातनगर
सबसे आसान तरीका पानी को उबाल कर डिस्टिलेशन का है। पर वह रोजमर्रा के लिहाज से महंगा होगा। आमतौर पर हम रिवर्स ऑस्मोसिस के जरिए पानी को पीने लायक बनाते हैं, जिसे छोटे नाम आरओ से ज्यादा पहचाना जाता है। इसमें एक मेम्ब्रेन या झिल्ली के मार्फत पानी के हार्ड तत्व को अलग किया जाता है। दुनिया का सबसे बड़ा डिसेलिनेशन संयंत्र संयुक्त अरब अमीरात में जेबेल अली संयंत्र (चरण 2) है। यह एक दोहरे उद्देश्य वाली इकाई है जो मल्टी स्टेज फ़्लैश आसवन का प्रयोग करती है और प्रति वर्ष 30 करोड़ घन मीटर पानी का उत्पादन करने में सक्षम है।

एफएम गोल्ड के कार्यक्रम बारिश सवालों की में प्रसारित

2 comments:

  1. बेहतरीन जानकारी। वैसे मैनें यह भी पढ़ा है कि यदि आनुपातिक दृष्टि से देखा जाए तो चींटियां अपने शरीर के वजन की तुलना में सर्वाधिक वजन खींच सकती हैं।

    ReplyDelete
  2. kifayat ke sath kam shabdon men aseemit jankari... sabhi ke liye baar-baar yahan aane yogy gyan-gaah.

    ReplyDelete