Friday, February 17, 2012

रोबोट का आविष्कार किसने किया?



क्या आप बता सकते हैं कि रोबोट का आविष्कार किसने किया था? आने वाले समय में इंसानों की जगह रोबोट काम कर सकते हैं? 
संतोष कुमार 




रोबोट का एक मतलब कृत्रिम मनुष्य है जिसकी अवधारणा हजारों साल पुरानी है। मनुष्य ने पक्षियों को देखकर उड़ने वाली मशीन बनाई। पन्द्रहवीं सदी में लियोनार्दो दा विंशी ने मनुष्य की आकृति के रोबोट का स्केच बनाया था। इसे लियोनार्दोस रोबोट कहते हैं। उन्नीसवीं सदी में जापानी हिशासिगे तनाका ने कई तरह के मिकेनिकल खिलौने बनाए जो चाय सर्व करते थे, तीर छोड़ते थे। बहरहाल चलती-फुरती पुतलियों को जटिल गणनाएं करने वाले रोबोट तक विकसित होने में तकरीबन सौ साल लगे। सन 1926 में अमेरिका के वेस्टिंगहाउस इलेक्ट्रिक कॉरपोरेशन ने टेलीवॉक्स बनाया जो काम करने वाला पहला रोबोट था। आज दुनिया में तमाम उद्योग ऐसे कामों में रोबोट का इस्तेमाल करते हैं, जहाँ मनुष्य के लिए खतरा होता है। 

भारत का सबसे बड़ा सार्वजनिक पुस्तकालय कौन सा है?
गुरमीत सिंह 
कोलकता के राष्ट्रीय पुस्तकालय को देश का सबसे बड़ा पुस्तकालय माना जाता है। पर इन दिनों सन 2010 में चेन्नई में स्थापित हुई अन्ना सेंटिनरी लाइब्रेरी को देश का सबसे बड़ा पुस्तकालय माना जा रहा है।

क्या दिल्ली में आज तक बर्फबारी हुई है?
एसपी गोयल
दिल्ली में हिमपात कभी नहीं हुआ और सम्भव भी नहीं है। रुई के फाहों की तरह बर्फ नहीं गिरी। अलबत्ता कई बार सुबह की ओस जम जाने से बर्फ जैसी लगती है। ऐसा कई बार हो चुका है।

अगर किसी दूसरे के बैंक अकाउंट में गलती से पैसे डिपॉज़िट हो जाएं तो उन्हें कैसे वापिस किया जा सकता है?
मिथिलेश
बैंक की गलती से ऐसा हुआ हो तो उसकी जिम्मेदारी बैंक की है, पर यदि ग्राहक की गलती से ऐसा हुआ है तो उसे प्रमाण के साथ प्रार्थनापत्र देना होगा। ठीक हो जाएगा।

अब तक हिन्दी की कितनी फिल्में रिमेक हुई होंगी? कुछ के नाम बता सकते हैं?
युसुफ
हिन्दी फिल्मों में कई करह के रिमेक हैं। एक तो तमिल-तेलुगु, मलयालम और बांग्ला के रिमेक हैं। जैसे राम और श्याम, एक-दूजे के लिए, गजिनी, वांटेड, रेडी, बॉडीगार्ड, ईश्वर, युवा, साथिया, मिलन, जुदाई से लेकर देवदास तक। ऐसी फिल्मों की संख्या सौ से ऊपर होगी। इधर रामगोपाल वर्मा ने शोले बनाकर एक नया मानक बनाना चाहा जो सफल नहीं हो पाया। उमराव जान अदा बनी। अब इस साल अग्निपथ और चश्मेबद्दूर बनने जा रही हैं।

वैलेंटाइन डे जब से शुरू हुआ है तब से लेकर अब तक कितनी बार मनाया गया होगा?
 मिश्रित
सन 496 में पोप जिलेसियस प्रथम ने 14 फरवरी को ईसाई शहीदों की स्मृति में, जिन्हें वेलेंटिनस कहा जाता था, यह दिन मनाने की शुरुआत हुए हैं। ईसाई धर्म के इतिहास में अनेक सेंट वेलेंटाइन हुए हैं। हालांकि पोप पॉल सिक्स्थ ने सन 1969 में इस दिन को जनरल रोमन कैलेंडर से हटा दिया है, पर पश्चिमी देशों में इसे मनाया जाता है। हमारे देश में भी पिछले कुछ साल से इसका चलन बढ़ा है। इसे प्रेमाचार या प्रणय से जोड़ने का काम पन्द्रहवीं सदी के युरोप में हुआ, जब समाज में प्रणय संस्कृति का उभार हुआ। युवा मन रोमांटिक होता है। हमारे यहाँ युवा जन संख्या बढ़ रही है। नए दौर में यह नज़र आ रहा है, जिसमें अस्वाभाविक कुछ भी नहीं है।

WhatsApp मैसेंजर क्या है? इसका क्या काम होता है? 
रितेश
WhatsApp मैसेंजर स्मार्टफोनों के लिए इंस्टैंट मैसेजिंग का एक एप्लीकेशन है। इसमें मैसेज भेजने वाले मैसेज के अलावा इमेज, वीडियो और ऑडियो भी भेज सकते हैं।

टेबलेट पीसी किसे कहते हैं? ये बाकियों से अलग कैसे होता है? इसका क्या दाम है? 
वरुण


टेबलेट पीसी भी कम्प्यूटर हैं, पर आकार में छोटे हैं। पीसी का शुरूआती मोबाइल रूप था लैपटॉप, फिर उससे छोटा नोटपैड आया। टेबलेट, अईपैड, स्लेट और आकाश तमाम नामों से सामने आ रहे हैं। इनमें प्रायः कीबोर्ड वैसे नहीं हैं जैसे कम्प्यूटर में होते हैं, बल्कि टचस्क्रीन पर यानी वर्च्युअल हैं। इनपर कम्प्यूटर जैसा भारी काम नहीं हो सकता, पर इंटरनेट सर्फिंग और मल्टी मीडिया वगैरह की सुविधा मिल सकती है। भारत में आईपैड की शुरुआती कीमत 28000 के आसपास थी। एचपी स्लेट इससे सस्ता होगा। कई टेबलेट दस हजार से कम में उपलब्ध हैं। भारत सरकार की मदद से बन रहा आकाश काफी सस्ता होगा। तीन हजार के आसपास।

 वैबसाइट के शुरू में www ही क्यों लगाया जाता है कोई और अक्षर क्यों नहीं लगाया जाता?
 देवेन्द्र चौधरी, ग्राम फरमाना, हरियाणा
वर्ल्डवाइड वैब इंटरनेट के मार्फत एक-दूसरे से जोड़ने का सिस्टम है। यह कंसोर्शियम नब्बे के दशक में ही विकसित हुआ है। डब्लू3 के पहले आपने http भी लिखा देखा होगा। इसका पूरा नाम है हाइपर टैक्स्ट ट्रांसफर प्रोटोकॉल। आप इंटरनेट पर तमाम साइट पर जाएं तो सभी यूनीफॉर्म रिसोर्स लोकेटर यानी url के पहले एक जैसे एक्षर नहीं आते। इसकी वजह है वैब सर्वर स्वामी डोमेन नेम सिस्टम में अपने आपको किस तरह रजिस्टर कराता है। मसलन आप microsoft.com टाइप करें तब भी www.microsoft.com खुलेगा। क्योंकि माइक्रोसॉफ्ट ने ऐसे ही रजिस्टर किया है। यदि आप mit.edu टाइप करें तो पेज खुलेगा http://mit.edu पर यदि आप www.mit.edu टाइप करें तब पेज पर यूआरएल आएगा http://www.mit.edu हालांकि तीनों एक ही पेज हैं।

माइक्रोवेव में कन्वैक्शन मोड का क्या अर्थ है? और इसका क्या इस्तेमाल है? 
गुनगुन
माइक्रोवेव अवन खाद्य सामग्री के भीतर के पोलराइज़्ड मॉलीक्यूल्स को माइक्रोवेव रेडिएशन से उत्तेजित करके गर्म करता है। पर कन्वैक्शन मोड परम्परागत हीटर वाले हीटिंग एलीमेंट से खाद्य वस्तु को गर्म करने का काम करता है। अलबत्ता माइक्रोवेव अवन में यह काम गर्म हवा पैदा करके किया जाता है। माइक्रोवेव का खाना अंदर से गर्म होता है पर ब्राउन, क्रिस्प, ब्रॉइल या बेक नहीं होता। यह काम कन्वैक्शन मोड करता है।

दिल्ली के कुछ इलाकों के नाम काफी अजीब हैं। जैसे पुल बंगश। इसके बारे में कुछ बताएं। 
संकेत रिठाला से
पुल बंगश के पास कमरा बंगश भी है। अब वहाँ कमरा नहीं बस्ती है, पर तकरीबन डेढ़ सौ साल पहले कोई इमारत भी रही होगी। बंगश भारत के पश्चिमोत्तर सीमा प्रांत के पठानों का एक कबीला है। इस इलाके में रूहेलों का राज भी रहा। उनमें बंगश कबीले के लोग भी थे। पुल बंगश शायद नवाब फैजुल्ला खां बंगश का बनाया हो।

सांसद और विधायक में क्या अंतर है? 
मनोज, मोहन गार्डन
राष्ट्रीय संसद के दोनों सदनों यानी लोकसभा और राज्यसभा के सदस्यों को सांसद और प्रादेशिक विधान सभाओं और विधान परिषदों के सदस्यों को विधायक कहते हैं।

लोग हकलाते क्यों हैं? 
आलोक
यह स्पीच डिसॉर्डर है। यह बच्चे की वाणी के विकास के दौरान ही पैदा हो जाता है। इसका कोई एक कारण नहीं है। शारीरिक विकार भी इसकी एक वजह हो सकता है। मसलन जुबान या गले की संरचना में दोष। या मस्तिष्क को किसी वजह से पहुँची क्षति। इसके जेनेटिक कारण भी होते हैं। सीखने की प्रवृत्ति में किसी कारण से आई त्रुटि भी कारण हो सकता है। समय रहते स्पीच थिरैपी से बच्चे बहुत जल्द इस दोष को काफी हद तक दूर भी कर लेते हैं। दवाओं से भी इसका इलाज होता है। 

1 comment: