Friday, February 17, 2012

अखबार के नीचे बने रंगीन गोले क्या हैं?


अखबार के आखिर में बने छोटे छोटे रंगीन गोले क्या हैंइनका मतलब बताएं।
मांगीलाल शर्मा

ये गोले चार रंग के होते हैं। ये रंग हैं नीला(सायना), लाल(मजेंटा), पीला(यलो) और काला(की या ब्लैक)। इन्हें संक्षेप में सीएमवाईके कहते हैं। अखबारों में छपाई के लिए इन चार रंगों की स्याही इस्तेमाल की जाती है। इन चारों रंगों के संयोग से ही तस्वीरों और अक्षरों के सारे रंग बनते हैं। चारों रंग की प्लेटें ठीक से लगी हैं या नहीं इसका पता इन गोलों या लकीरों या किसी दूसरी आकृति से लगता है। इसे रजिस्ट्रेशन कहने हैं। 


बाघ को राष्ट्रीय पशु कब और क्यों घोषित किया गया?
रणवीर चौधरी, बाड़मेर
लावण्‍य, फुर्ती और अपार शक्ति के कारण बाघ को भारत के राष्‍ट्रीय जानवर के रूप में गौरवान्वित किया है। भारत सरकार की वैबसाइट में बाघ को राष्ट्रीय पशु के रूप में रेखांकित किया गया है। पर इन्हें राष्ट्रीय प्रतीक चिह्न कानून 1950 के तहत नहीं रखा गया है। जैसे हमारे राष्ट्रीय चिह्न, राष्ट्रीय ध्वज और राष्ट्रीय गीत को कानूनी मान्यता प्राप्त है उस प्रकार की मान्यता राष्ट्रीय पशु-पक्षी आदि को नहीं है। भारत सरकार ने 1973 से बाघ परियोजना’ (केंद्रीय प्रायोजित स्कीम के रूप में जारी) शुरू की है, जिनके अंतर्गत बाघ रिजर्वों में बाघों की सुरक्षा और संरक्षण के लिए बाघ वासित राज्यों को केंद्रीय सहायता दी जाती है। इसके अतिरिक्, वर्ष 2006 में वन्यजीव (संरक्षण) अधिनियम, 1972 में संशोधन कर बाघ कार्यबल की सिफारिशों की तुलना में बाघ संरक्षण को सुदृढ़ करने के लिए अलग से एक अध्याय शामिल किया गया है। बाघतेंदुआ टाइग्रिस  धारीदार जानवर है। ज्ञात आठ किस्‍मों की प्रजाति में से शाही बंगाल टाइगर (बाघ) उत्‍तर पूर्वी क्षेत्रों को छोड़कर देश भर में पाया जाता है और पड़ोसी देशों में भी पाया जाता है, जैसे नेपाल, भूटान और बांग्‍लादेश।

मंगल ग्रह का रंग लाल क्यों होता हैं?
पूजा शर्मा pujasharma261992@gmail.com
मंगल को लाल ग्रह इसीलिए कहते हैं क्योंकि यह लाल रंग का नज़र आता है। इसके लाल रंग की वजह है आयरन ऑक्साइड। मंगल ग्रह की मिट्टी आयरन ऑक्साइड की है। यह लाल धूल हवा से उड़कर वातावरण में जमा हो जाती है। इसीलिए हमें यह दूर से लाल नज़र आता है।





राजस्थान पत्रिका के कॉलम नॉलेज कॉर्नर में प्रकाशित

No comments:

Post a Comment