Monday, August 31, 2015

सावन के महीने को सावन क्यों कहते हैं?


इस मास की पूर्णमासी श्रवण नक्षत्र से युक्त होती, इसीलिए इसे श्रावण कहते हैं। श्रावण का तद्भव रूप सावन है। हिन्दू शास्त्रों के अनुसार भगवान शंकर ने समुद्र मंथन से निकले विष का पान श्रावण मास में ही किया था।

पाउडर मिल्क कैसे बनता है?
पाउडर मिल्क सामान्य दूध में से पानी को सोख कर तैयार किया जाता है। यह पूरी तरह दूध है, केवल इसका पानी सुखा दिया गया है। दूध को ज्यादा लम्बे समय तक नहीं रखा जा सकता है। इसकी वजह पानी है। सूखा दूध जल्द खराब नहीं होता। दूध को सुखाने के लिए जो तरीका अपनाया जाता है प्रायः उसके लिए कोडैक्स एलिमेंटेरियस के तहत मानकों का पालन किया जाता है। यह काम भी इंसान ने काफी पहले कर लिया था। तेरहवीं सदी के इटली के व्यापारी मार्को पोलो ने अपने संस्मरणों में लिखा है कि मंगोलिया के तातार लोग धूप में दूध को सुखाकर उसका पेस्ट बना लेते थे। आधुनिक युग में सबसे पहले रूसी विज्ञानी ओसिप क्रिचेवस्की ने सन 1802 में सूखे दूध को पेटेंट कराया था।

अशोक स्तम्भ को राष्ट्रीय चिह्न बनाने का कारण क्या है?
सारनाथ में अशोक ने जो स्तम्भ बनवाया था उसके शीर्ष भाग को सिंह चतुर्मुख कहते हैं। इस मूर्ति में चार शेर पीठ-से-पीठ सटाए खड़े हैं। इसके आधार के मध्य भाग में बने चार सिंह शक्ति, साहस, शौर्य और विश्वास के प्रतीक हैं। आधार पर बने सिंह, हाथी, घोड़ा और वृषभ चार दिशाओं के रक्षक हैं। आधार के बीचों-बीच बना धर्मचक्र गतिशीलता का प्रतीक है। उसे भारत के राष्ट्रीय ध्वज में बीच की सफेद पट्टी में रखा गया है। इन प्रतीकों के कारण उसे राष्ट्रीय चिह्न बनाने के लिए उपयुक्त पाया गया।

ऑपरेशन रूम को ऑपरेशन थिएटर क्यों कहते हैं?
ऑपरेशन रूम अमेरिकी इस्तेमाल है और ऑपरेशन थिएटर ब्रिटिश। इन्हें ऑपरेशन रूम या कक्ष कहना ही बेहतर है, पर इन्हें थिएटर कहने के पीछे बाकायदा प्रदर्शन की व्यवस्था है जो थिएटर का महत्वपूर्ण पक्ष है। मेडिकल कॉलेजों में छात्रों के सर्जरी से परिचित कराने के लिए ऐसी व्यवस्थाएं की गईं थीं, जिनमें एक गोल थिएटर जैसे मंच के चारों ओर गोल घेरे में बैठने के स्थान बनाए गए। पर मूलतः सन 1884 में जर्मन सर्जन गुस्ताब न्यूबर ने ऑपरेशन के लिए साफ-सुथरी कीटाणु मुक्त व्यवस्था की कल्पना की थी, जिसमें गाउन, कैप, शू कवर तक ऐसे पहनने होते थे, जो डिसइनफैक्टेड होते थे।

किशोर कुमार खुद अच्छे गायक थे और अभिनेता भी। क्या कभी ऐसा हुआ कि उनके लिए किसी दूसरे गायक ने गीत गाया?
मोहम्मद रफी ने पहली बार किशोर कुमार को अपनी आवाज फिल्म 'रागिनी' में उधार दी। गीत था-'मन मोरा बावरा।' दूसरी बार शंकर-जय किशन की फिल्म 'शरारत' में रफी ने किशोर के लिए गाया-'अजब है दास्ताँ तेरी ये जिंदगी।'

दुनिया की सबसे बड़ी जेल कौन सी है? और भारत की सबसे पुरानी जेल कौन सी है?
अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर की जेल रिकर्स आयलैंड दुनिया की सबसे बड़ी जेल है। वस्तुतः यह एक अलग द्वीप ही है।  इसमें 14,000 कैदियों के रहने की व्यवस्था है, जिनकी देख-रेख के लिए 9000 अधिकारी और 1500 सिविलियन कर्मचारी काम करते हैं। इसकी तुलना आप दिल्ली की तिहाड़ जेल से कर सकते हैं, जहाँ 6000 कैदियों के रहने की व्यवस्था है, पर मजबूरी में 12000 के आसपास रहते हैं। जहाँ तक भारत की जेलों का सवाल है, सबसे पुरानी जेल प्राचीन राजाओं के काल में रहीं होंगी। अलबत्ता आज मौजूदा जेलों में सबसे पुरानी चेन्नई की केन्द्रीय जेल है जो सन 1837 में शुरू हुई थी।


राजस्थान पत्रिका के नॉलेज कॉर्नर में प्रकाशित

1 comment:

  1. आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन ब्लॉग बुलेटिन - गूगल का नया रूप में शामिल किया गया है। कृपया एक बार आकर हमारा मान ज़रूर बढ़ाएं,,, सादर .... आभार।।

    ReplyDelete