Thursday, September 15, 2016

जी-20 के कितने शिखर सम्मेलन हो चुके हैं?

चीन के हांगचो शहर में हाल में हुआ 11 वाँ शिखर सम्मेलन था. 25 सितंबर 1999 को अमेरिका की राजधानी वॉशिंगटन डीसी में विश्व के सात प्रमुख देशों के संगठन जी-7 ने एक नया संगठन बनाने की घोषणा की थी. उभरती आर्थिक ताक़तों की बुरी वित्तीय स्थिति से बने चिंता के माहौल के बीच गठित इस संगठन का नाम दिया गया-जी 20. उस वक्त यह विश्व की 20 प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं के वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंक के गवर्नरों के संगठन के रूप में सामने आया था, जिसमें 19 देश और यूरोपीय संघ शामिल थे। इन देशों के अलावा इसके सम्मेलनों में दुनिया भर के तमाम संगठनों और देशों को समय-समय पर निमंत्रित किया जाता है. इस संगठन का कोई स्थायी सचिवालय नहीं है, पर अब प्रयास किया जा रहा है कि स्थायी सचिवालय बने. इसकी अध्यक्षता हर साल बदलती है। इस समय चीन के पास है. अगले साल इसका शिखर सम्मेलन 7-8 जुलाई को हैम्बर्ग, जर्मनी में होगा. तब अध्यक्षता भी जर्मनी के पास होगी.
जी-4 देश कौन से हैं?
जी-4 देश हैं ब्राजील, जर्मनी, भारत और जापान जो संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की सदस्यता के लिए एक-दूसरे के दावों का समर्थन करते हैं. यह जी-20 या ब्रिक्स की तरह आर्थिक सहयोग का समूह नहीं है, बल्कि सुरक्षा परिषद में सुधार के लिए बना समूह है.
गांधी के तीन बंदरों का प्रचलन कैसे शुरू हुआ?
वर्ष 1617 में जापान के निक्को स्थि‍त तोगोशु की समाधि पर ये तीनों बंदर बने हैं. माना जाता है कि यह बंदर जिन सिद्धांतों की ओर इशारा करते हैं, वे बुरा न देखो, बुरा न सुनो, बुरा न बोलो को दर्शाते हैं. मूलतः यह शिक्षा ईसा पूर्व के चीनी दार्शनिक कन्फ्यूशियस की थ. वहाँ से यह विचार जापान गया. उस समय जापान में शिंटो संप्रदाय का बोलबाला था. शिंटो संप्रदाय में बंदरों को काफी सम्मान दिया जाता है, शायद इसीलिए इस विचारधारा को बंदरों का प्रतीक दे दिया गया। ये बंदर युनेस्को की विश्व विरासत सूची में शामिल है। जापानी में इन बंदरों के नाम हैं मिज़ारू, किकाज़ारू और इवाज़ारू। महात्मा गांधी ने इन तीन बंदरों के मार्फत नैतिकता की शिक्षा दी, इसलिए कुछ लोग इन्हें गांधी जी के बंदर भी कहते हैं.
भारत के राष्ट्रपति का चुनाव कब होता है?
भारत में राष्ट्रपति का कार्यकाल पाँच वर्ष का होता है. वर्तमान राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने सन 2012 में कार्यभार सम्हाला था. इस प्रकार अगले राष्ट्रपति का चुनाव 2017 में होगा. राष्ट्रपति का चुनाव एक निर्वाचन मंडल या इलेक्टोरल कॉलेज करता है. इसमें संसद के दोनों सदनों तथा राज्यों की विधानसभाओं के निर्वाचित सदस्य शामिल होते हैं. दो केंद्रशासित प्रदेशों, दिल्ली और पुदुच्चेरी के विधायक भी चुनाव में हिस्सा लेते हैं जिनकी अपनी विधानसभाएँ हैं. चुनाव जिस विधि से होता है उसका नाम है–आनुपातिक प्रतिनिधित्व प्रणाली के आधार पर एकल हस्तांतरणीय मत द्वारा.
सोलह संस्कार क्या हैं?
हिन्दू जीवन पद्धति में जीवन के अलग-अलग चरणों में व्यक्ति के अलग-अलग कर्तव्य निर्धारित हैं, इन्हें ही संस्कार कहते हैं. इन सोलह संस्कारों की कई तरह की सूचियाँ आपको मिलेंगी. सामान्य रूप से मान्य एक सूची यह है- 1. गर्भाधान, 2. पुंसवन, 3. सीमन्तोन्नयन, 4.जातकर्म, 5. नामकरण, 6. निष्क्रमण, 7. अन्नप्राशन, 8. चूड़ाकर्म, 9. विद्यारम्भ, 10. कर्णवेध, 11. यज्ञोपवीत, 12. वेदारम्भ, 13. केशान्त, 14. समावर्तन, 15. विवाह, 16. अन्त्येष्टि.
देश में नए आईआईटी कौन से हैं?
देश में अब 23 आईआईटी हो गए हैं. इस साल चार नए आईआईटी खुले हैं. ये हैं गोवा, भिलाई, जम्मू और धारवाड़. सन 1926 से चल रहे धनबाद स्थित इंडियन स्कूल ऑफ माइंस को भी इस साल से आईआईटी का दर्जा दे दिया गया है. 
क्या इंसान की खोपड़ी एक हड्डी की बनी होती है?

नहीं इंसान की खोपड़ी को दो हिस्सों में बाँट सकते हैं. एक कपाल जिसमें मस्तिष्क रहता है और दूसरा चेहरा. कपाल की आठ हड्डियां होती हैं जिन्हें क्रेनियल बोन्स कहते हैं. चेहरे की कुल 14 हड्डियां (फेशियल बोन्स) होती हैं. इस प्रकार मनुष्य की खोपड़ी में 22 हड्डियां होती हैं.
प्रभात खबर अवसर में प्रकाशित

1 comment:


  1. हमेशा की तरह बहुत ही सुंदर जानकारी दी आपने प्रमोद जी विद्यार्थियों के लिए तो आपका यह ब्लॉग वरदान है

    ReplyDelete