Thursday, June 2, 2016

ऑस्ट्रेलिया को Oz और दक्षिण अफ्रीका को PROTEAS क्यों लिखते हैं?

आस्ट्रेलिया को संक्षेप में Aussie या ऑज़ी कहते हैं. इसे और छोटा करके Oz भी लिखते हैं. आमतौर पर हम जिसे जेड कहते हैं उसका उच्चारण ज़ी होता है. यानी ओज़ी. दक्षिण अफ्रीका को प्रोटिएस कहने की वजह है फूलों की एक प्रजाति जिसका नाम है प्रोटिएस. इसे दक्षिण अफ्रीका का राष्ट्रीय फूल माना जाता है. दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट टीम के प्रतीक चिह्न में भी यह फूल शामिल है. यों पहले दक्षिण अफ्रीका की टीम को स्प्रिंगबोक भी कहा जाता था. स्प्रिंगबोक दक्षिण अफ्रीका के हिरनों की एक प्रजाति है. यह हिरन हवा में बहुत ऊँचा उठ जाता है. इसी तरह आस्ट्रेलिया की टीम को कैंगरू या कंगारू भी कहा जाता है.    

थॉमस और उबर कप

थॉमस कप बैडमिंटन की पुरुष टीम चैम्पियनशिप है और उबर कप महिला वर्ग की टीम चैम्पियनशिप है. इन्हें विश्व चैम्पियनशिप माना जा सकता है. थॉमस कप का सुझाव अपने समय के श्रेष्ठ ब्रिटिश खिलाड़ी सर जॉर्ज एलन टॉमस या थॉमस ने दिया था. उनके नाम पर ही इस प्रतियोगिता का नाम है. पहली प्रतियोगिता सन 1948-49 में हुई थी. पहले यह हर तीन साल में होती थी, पर सन 1982 से यह हर दो साल में होने लगी है. सबसे पहली चैम्पियनशिप मलेशिया ने जीती. उबर कप का आयोजन 1956–1957 में पहली बार हुआ. शुरू में यह तीन साल में एक बार होती थी. फिर 1984 से यह हर दो वर्षों के अंतराल पर होने लगी. इसका आयोजन स्थल और समय थॉमस कप के साथ मिला दिया गया.

उबर कप का नाम पूर्व ब्रिटिश महिला खिलाड़ी बेट्टी उबर के नाम पर पड़ा था, जिन्होंने 1950 में महिलाओं के लिए इस तरह की प्रतियोगिता के आयोजन की बात सोची थी. सन 2016 में कुनशान, चीन में हुई प्रतियोगिता में डेनमार्क की टीम थॉमस कप चैम्पियन बनी और इंडोनेशिया की टीम उप विजेता. उबर कप चीन की टीम ने जीता जिसने फाइनल में दक्षिण कोरिया को हराया.

हेलिकॉप्टर के रोटर और हवाई जहाज़ के प्रोपेपलर

हेलिकॉप्टर की पंखड़ी ऊपर होती है और हवाई जहाज़ की सामने. दोनों हवा में उड़ने का काम करते हैं, पर दोनों के सिद्धांत अलग होते हैं. हेलिकॉप्टर के पंखे रोटर कहलाते हैं जो घूमते हैं. हवाई जहाज के पंख बाईं और दाईं ओर होते हैं और स्थिर रहते हैं. घूमते नहीं हैं. हवाई जहाज अपने पंखों के सहारे हवा में तैरता है और उसके इंजन उसे आगे ले जाते हैं. हेलिकॉप्टर के रोटर उसे ऊपर उठाने और आगे पीछे ले जाने का काम भी करते हैं. हेलिकॉप्टर आगे-पीछे और दाएं बाएं जा सकता है. एक जगह रुका भी रह सकता है. हवाई जहाज ऐसा नहीं कर सकता है. वह सीधा चलता है और उसे दाएं या बाएं जाने के लिए घूमना पड़ता है. उसके सामने लगे प्रोपेपलर ब्लेड उसे आगे बढ़ाने में मदद करते हैं. हवाई जहाज का इंजन हवा खींचकर उसे पीछे की ओर फेंकता है तो वह आगे बढ़ता. पंखों पर हवा के दबाव से वह ऊपर उठता है.

स्टेम सेल क्या है एवं इसका चिकित्सा विज्ञान में क्या उपयोग है?

स्टेम सेल बहुकोशिकीय जीवों के शरीर की कोशिकाएं हैं. इनकी विशेषता है माइटोटिक सेल डिवीज़न के तहत इनका बढ़ना. नाभि-रज्जु (अम्ब्लिकल कॉर्ड) या अस्थि मज्जा(बोन मैरो) से रक्त कोशिका लेकर उनके कल्चर के बाद शरीर के क्षतिग्रस्त अंगों का इलाज सम्भव है. इनकी सहायता से शरीर के भीतर अनेक अंगों को  फिर से विकसित किया जा सकता है. साठ के दशक में टोरंटो विवि के अर्नेस्ट ए मैक्युलॉक और जेम्स ई टिल ने इस सिलसिले में बुनियादी अनुसंधान किया था. तब से चिकित्सा के क्षेत्र में स्टेम सेल ने क्रांति ला दी है. 

प्रभात खबर अवसर में प्रकाशित

No comments:

Post a Comment