Thursday, December 1, 2016

एटीएम का चलन कैसे शुरू हुआ?

एटीएम का अर्थ है ऑटोमेटेड टैलर मशीन. टैलर माने क्लर्क या कैशियर. पहचानते हैं  एटीएम की ज़रूरत पश्चिमी देशों में वेतन बढ़ने तथा प्रशिक्षित कर्मियों की संख्या में कमी होने के कारण पैदा हुई. इसके आविष्कार का श्रेय आर्मेनियाई मूल के अमेरिकी लूथर जॉर्ज सिमियन को जाता है. उसने 1939 में इस प्रकार की मशीन तैयार कर ली थी, जिसे शुरू में उसने बैंकमेटिक नाम दिया. पर इस मशीन को किसी ने स्वीकार नहीं किया. लूथर इसके विकास में लगा रहा और 21 साल बाद जून 1960 में उसने इसका पेटेंट फाइल किया. फरवरी 1963 में उसे पेटेंट मिला. इस बीच उसने सिटी बैंक ऑफ न्यूयॉर्क (आज का सिटी बैंक) को इसे प्रयोगात्मक रूप से इस्तेमाल करने के लिए राज़ी कर लिया. छह महीने के ट्रायल में इस मशीन को स्वीकार नहीं किया गया. साठ के दशक में क्रेडिट कार्ड का चलन शुरू होने के कारण जापान में इस तरीके की मशीन की ज़रूरत महसूस की गई. तब तक कुछ और लोगों ने मशीनें तैयार कर ली थीं. जापान में 1966 में एक कैश डिस्पेंसर लगाया गया, जो चल निकला. उधर 1967 में लंदन में बार्कलेज़ बैंक ने ऐसी मशीन लगाने की घोषणा की. उस मशीन को तैयार किया था भारत में जन्मे स्कॉटिश मूल के जॉन शै़फर्ड ने. इस मशीन में तब से काफी बदलाव हो चुके हैं. मैग्नेटिक स्ट्रिप के कारण इसकी कार्य-पद्धति बदल गई है. प्लास्टिक मनी की संस्कृति विकसित होने के कारण इसका चलन बढ़ता ही जा रहा है. 
भारत का सबसे पुराना बैंक कौन सा है?
अठारहवीं सदी के अंतिम दशक में देश के पहले दो बैंक खुले थे. इनके नाम थे जनरल बैंक ऑफ इंडिया, जो 1786 में खुला और दूसरा बैंक था बैंक ऑफ हिन्दुस्तान जो 1790 में शुरू हुआ. दोनों बैंक बंद हो गए। देश के सक्रिय बैंकों में सबसे पुराना बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया है, जो जून 1806 में बैंक ऑफ कैलकटा के नाम से शुरू हुआ. इसका नाम बाद में बैंक ऑफ बंगाल हो गया. उस वक्त देश में इसके अलावा दो प्रेसीडेंसी बैंक और खुले जिनके नाम थे बैंक ऑफ बॉम्बे और बैंक ऑफ मद्रास. सन 1921 में तीनों बैंकों को मिलाकर इम्पीरियल बैंक ऑफ इंडिया बनाया गया. देश के स्वतंत्र होने पर इसका नाम हुआ स्टेट बैंक ऑफ इंडिया.
डैबिट और क्रेडिट कार्ड में क्या फर्क है?
डैबिट कार्ड आपके बैंक खाते से जुड़ा होता है, जो आपकी ही रकम है. जब आप कहीं सामान खरीदते वक्त इसके मार्फत भुगतान करते हैं तो धनराशि आपके खाते से जाती है. इसके अलावा धारक एटीएम से निर्धारित राशि तक निकाल भी सकता है. क्रेडिट कार्ड, क्रेडिट सुविधा है. जिस संस्था का कार्ड है वह ग्राहक को एक पूर्व निर्धारित राशि तक की खरीदारी करने या कैश निकालने की अनुमति देती है. यह राशि बाद में जरूरी ब्याज सहित वापस ले ली जाती है.
बनाना रिपब्लिक किसे कहते हैं?
राजनीति शास्त्र में बनाना रिपब्लिक शब्द लैटिन अमेरिका के उन देशों के लिए इस्तेमाल में लाया गया, जो राजनीतिक रूप से काफी अस्थिर थे. उन्हें बनाना रिपब्लिक इसलिए कहा गया, क्योंकि उनकी अर्थ-व्यवस्था मुख्यतः केले के निर्यात पर निर्भर थी. इन देशों में गरीब-कमजोर मजदूर रहते हैं और सत्ता पर अल्पसंख्यक व्यापारियों, नौकरशाहों, राजनेताओं और फौजी अफसरों का नियंत्रण होता है. बनाना रिपब्लिक शब्दावली का प्रयोग प्रसिद्ध अमेरिकी कथाकार ओ. हेनरी (O. Henry) ने किया था. ओ. हेनरी ने इसका इस्तेमाल उस विशेष स्थिति के लिए किया था जहाँ कुछ अमेरिकी कारोबारियों ने  कैरीबियन द्वीपों, मध्य अमेरिका तथा दक्षिण अमेरिका में अपनी चतुराई से भारी मात्रा में केला उत्पादक क्षेत्रों पर अपना एकाधिकार कर लिया. स्थानीय मजदूरों को कौड़ियों के भाव पर काम करवा कर केलों के उत्पादन को अमेरिका में भेजकर भारी लाभ उठाया.
बैडमिंटन सुपर सीरीज क्या है?
बीडब्ल्यूएफ (बैडमिंटन वर्ल्ड फैडरेशन) सुपर सीरीज को 14 दिसम्बर 2006 में लांच किया गया था, पर पहली प्रतियोगिता 2007 में हुई. इसके अंतर्गत एक साल में दुनियाभर में 12 प्रतियोगिताएं होती हैं. इनमें से पाँच को सुपर सीरीज प्रीमियर कहा जाता है, जिनमें पुरस्कार राशि ज्यादा होती है और उसके अंक भी ज्यादा मिलते हैं. साल भर में इन प्रतियोगिताओं में खेलने के बाद महिला और पुरुष एकल, युगल और मिश्रित युगल वर्ग के आठ सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों और जोड़ों को सुपर सीरीज मास्टर्स फाइनल्स में खेलने का मौका दिया जाता है. इस साल फाइनल्स दुबई में 14 से 18 दिसम्बर को होंगे.
यूरोस्टार क्या है?
यूरोस्टार ट्रेन सेवा है जो लंदन को पेरिस और ब्रसेल्स से जोड़ती है. यह ट्रेन ब्रिटेन और यूरोप के बीच के सागर इंग्लिश चैनल के नीचे बनी एक सुरंग से होकर जाती है. यह ट्रेन 300 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलती है और इसे लंदन से पेरिस पहुंचने में 2 घंटे 35 मिनट लगते हैं और ब्रसल्स पहुंचने में 2 घंटे 20 मिनट.
प्रोटोकॉल क्या होता है?
प्रोटोकॉल का सामान्य अर्थ शिष्टाचार या कुछ मान्य सिद्धांत है. जैसे डिप्लोमेसी में काम करने के तौर-तरीके होते हैं. प्रोटोकॉल का एक आशय संधियों और समझौते भी है. इसका एक अर्थ मर्यादाओं से भी है.
पहला क्रिकेट टेस्ट मैच कब खेला गया था?
पहला आधिकारिक क्रिकेट टेस्ट मैच 15 मार्च 1877 को ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर हुआ. इसमें ऑस्ट्रेलिया की टीम 45 रन से जीती. टेस्ट मैचों के सौ साल पूरे होने पर 12 से 17 मार्च 1977 को मेलबर्न में दोनों देशों के बीच हुए टेस्ट मैच में भी ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को 45 रन से हराया.
प्रभात खबर अवसर में प्रकाशित

1 comment: