Sunday, January 4, 2015

1 जनवरी को नया साल मनाना किसने शुरू किया?

एक जनवरी को नव-वर्ष दिवस किस ने और कब मनाना शुरू किया?

नया साल ग्रेगोरियन कैलेंडर के अनुसार 1 जनवरी को होता है। अलग-अलग संस्कृतियों के अपने कैलेंडर और अपने नव वर्ष होते हैं। दुनिया के देश अलग-अलग समय पर नया साल मनाते हैं। विभिन्न सम्प्रदायों के नव वर्ष समारोह भिन्न-भिन्न होते हैं और इसका महत्व भी विभिन्न संस्कृतियों में भिन्न होता है। माना जाता है कि नए साल का उत्सव 4000 साल से भी पहले बेबीलोन में मनाया जाता था। पर तब यह पर्व 21 मार्च को मनाया जाता था जो कि वसंत के आगमन की तिथि भी मानी जाती थी। प्राचीन रोम में भी नव वर्षोत्सव तभी मनाया जाता था। रोम के बादशाह जूलियस सीजर ने ईसा पूर्व 45 वें वर्ष में जब जूलियन कैलेंडर की स्थापना कीतब विश्व में पहली बार 1 जनवरी को नए साल का उत्सव मनाया गया। ऐसा करने के लिए जूलियस सीजर को उससे पिछला साल यानी ईसा पूर्व ईसवी 46 को 445 दिन का करना पड़ा था। हिब्रू मान्यताओं के अनुसार ईश्वर ने दुनिया को सात दिन में इन सात दिनों के बाद नया वर्ष मनाया जाता है। यह दिन ग्रेगोरियन कैलेंडर के मुताबिक 5 सितम्बर से 5 अक्टूबर के बीच आता है। हिन्दुओं का नया साल चैत्र नव रात्रि के पहले दिन आता है। इसे देश में अलग-अलग नामों से मनाया जाता है। चीनी कैलेंडर के अनुसार पहले महीने का पहला चन्द्र दिवस नव वर्ष के रूप में मनाया जाता है। यह आमतौर पर 21 जनवरी से २१ फरवरी के बीच पड़ता है। मारवाड़ी कारोबारी नया साल दीपावली के दिन मनाते हैं और गुजराती दीपावली के दूसरे दिन।

फेसबुक’ क्या है और इसे हैक कर लेने का क्या अर्थ है?
फेसबुक इंटरनेट पर एक निःशुल्क सामाजिक नेटवर्किंग सेवा है, जिसके माध्यम से 13 वर्ष से ऊपर की उम्र के इसके सदस्य अपने मित्रों, परिवार और परिचितों से संपर्क रखते हैं। इसे फेसबुक इनकॉरपोरेटेड नामक कंपनी संचालित करती है। इसके प्रयोक्ता कई तरह के नेटवर्कों में शामिल हो सकते हैं और आपस में विचारों का आदान-प्रदान कर सकते हैं। इसकी शुरुआत फरवरी 2004 में हारवर्ड के एक छात्र मार्क ज़ुकरबर्ग ने की थी। इसके पहले 28 अक्तूबर 2003 से ज़ुकरबर्ग फेसमैश नाम से वैबसाइट चला रहे थे जिसमें छात्र दो दोस्तों के चित्रों को बराबर रखकर उनमें तुलना करते थे। फरवरी 2004 में जब इसे शुरू किया गया तब इसका नाम द फेसबुक था। कॉलेज नेटवर्किंग के रूप में शुरू होने के बाद जल्द ही यह कॉलेज परिसर में लोकप्रिय होती चली गई। कुछ ही महीनों में यह नेटवर्क पूरे यूरोप में पहचाना जाने लगा। अगस्त 2005 में इसका नाम फेसबुक कर दिया गया। जून 2014 में इसके सदस्यों की संख्या 1.3 करोड़ थी। फेसबुक में अन्य भाषाओं के साथ हिन्दी में भी काम करने की सुविधा है। फेसबुक ने भारत सहित अनेक देशों की मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनियों से समझौता किया है। इस करार के तहत फेसबुक का उपयोग मोबाइल फोन पर भी निःशुल्क किया जा रहा है।
फेसबुक अकाउंट हैक करने का मतलब है किसी तरीके से आपके पासवर्ड को हासिल करके अकाउंट का दुरुपयोग करना। मसलन आपके नाम से गलत संदेश दिए जा सकते हैं। इससे भी ज्यादा आपके बैंकिंग पासवर्ड वगैरह का पता लगाया जा सकता है। साथ ही आपके अकाउंट की मदद से आपके मित्रों के अकाउंट भी हैक किए जा सकते हैं।

सबसे बड़ा डायनोसॉर कितना बड़ा था?
डायनोसॉरों का अध्ययन करने वाले पैलेंटोलॉजिस्ट अभी तक जिस सबसे बड़े डायनोसॉर का पता लगा पाए हैं वह 40 मीटर लम्बा, 20 मीटर ऊँचा और लगभग 77 टन वज़नी रहा होगा। इसकी खोज सन 2014 में अर्जेंटीना के पेंटागोनिया के ला फ्लेचा इलाके में की गई है। इस इलाके के रेगिस्तान में स्थानीय लोगों को एक विशाल हड्डी के जीवाश्म मिले। इसके बाद वैज्ञानिकों की एक टीम ने इस इलाके की खुदाई करके सात जानवरों की 150 हड्डियाँ निकालीं। इनके आधार पर इस डायनोसॉर के आकार का अनुमान लगाया गया है। मोटे तौर पर यह 14 अफ्रीकी हाथियों के बराबर वज़नी और चार जिराफों के बराबर ऊँचा रहा होगा। इसके जीवाश्म जिस पत्थर पर बने हैं उनके उम्र को देखते हुए यह जीव साढ़े नौ से 10 करोड़ साल पहले धरती पर विचरण करता रहा होगा।


राजस्थान पत्रिका के मी नेक्स्ट में प्रकाशित 04 जनवरी 2015

No comments:

Post a Comment